अदाणी इंटरप्राइजेज द्वारा राष्ट्रीय चिकित्सक दिवस के अवसर पर मुफ्त स्वास्थ्य सेवा कैंप का आयोजन ।
July 2, 2019 • Abhishek Verma
2 जुलाई, 2019, सरगुजा, छत्तीसगढ़ः ग्रामीण क्षेत्रों में सुलभ स्वास्थ सेवा उपलब्ध करवाने के प्रयास में अग्रसर अदाणी इंटरप्राइजेज लिमिटेड द्वारा सल्का एवं मडगाओं के निवासियों के लिए स्वास्थ कैंप का आयोजन करवाया गया और मुफ़्त दवाइओं वितरण किया गया जिसमे 100 से भी अधिक लोगों की उपस्थिति दर्ज़ की गयी। राजस्थान राज्य विद्युत उत्पादन निगम लिमिटेड के सहयोग से इस कैंप को राष्ट्रीय चिकित्सक दिवस के अवसर पर आयोजित किया गया और स्थानीय चिकित्सकों, डॉ० एस.के. मधुप (त्वचा एवं इ.एन.टी विशेषज्ञ), डॉ० शिखा सोनी (प्रसूतिशास्री), डॉ० शारदा भगत (प्रसूतिशास्री), डॉ० शालिनी कुमारी (प्रसूतिशास्री), डॉ० पी.एस. मार्को (शिशु रोग विशेषज्ञ), डॉ० विवेक तिवारी (सामान्य रोग चिकित्सक) को उनके अभूतपूर्व योगदान के लिए सम्मानित भी किया गया।

छत्तीसगढ़ जैसे स्वास्थ वंचित क्षेत्रों में इस तरह की अनूठी पहल स्वास्थ व्यव्य्स्था को दुरुस्त करने के लिए सुयोग्य है। अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ संगठन के अनुसार भारत की दो-तिहाई आबादी जो ग्रामीण क्षेत्रों में निवास करती है उनकी स्वास्थ सम्बन्धी जरूरतों के अनुरूप केवल एक चैथाई चिकित्सक एवं नर्स ही मौजूद है। आदिवासी इलाकों में स्थिति और भी गंभीर है। ऐसे क्षेत्रों की विषम स्थिति में सुधार लाने हेतु अदाणी समूह के ग़ैर लाभकारी संगठन अदाणी फाउंडेशन के द्वारा कई महत्वपूर्ण कदम उठाए गए है जिन में से एक है महिला उद्यमी बहुद्देशीय सहकारी समिति लिमिटेड की स्थापना। महिला उद्यमी बहुद्देशीय सहकारी समिति लिमिटेड के द्वारा इन क्षेत्रों में महिला स्वस्थ्य के महत्वपूर्ण बिंदुओं को लेकर जागरूक किया जा रहा है। कोआपरेटिव के द्वारा सस्ते और स्वच्छ सेनेटरी नैपकिन बनाने की जानकारी दी जा जाती है जिस से ना केवल आस पास की महिलाओं को रोजगार मिल रहा है अपितु एक रोगमुक्त समाज की भी स्थापना हो रही है।

''अदाणी द्वारा आयोजित करवाए गए इस कैंप में ना केवल मेरा इलाज अच्छी तरह से हुआ, अपितु बच्चों का भी इलाज व्यवस्थित रूप से किया गया।'' पन्नालाल, सल्का गाँव। 
वर्ष 2018-19 में अदाणी फॉउंडेशन ने छत्तीसगढ़ की जमीनी स्वस्थ्य सेवा में सुधार करने हेतु काफ़ी महत्वपूर्ण योगदान किये। फाउंडेशन द्वारा एक मेगा कैंप का आयोजन किया गया जहाँ हर क्षेत्र के विशेषज्ञ चिकित्सक जैसे कार्डियोलॉजी, ऑप्थल्मोलॉजी, डर्मेटोलॉजी, डेंसटिस्ट्री, गायंकोलोजी की टीम द्वारा 1500 स्थानीय निवासियों की जांच की गयी। इसके अतिरिक्त मोबाइल स्वास्थ्य सेवा यूनिट द्वारा 9000 ग्रामीणों को बुनियादी स्वास्थ्य सेवा मुहैया करवाई गयी। एनीमिया जैसी आम बिमारी के उन्मूलन हेतु सुपोषण अभियान की शुरुआत की गयी जिस से 2700 बच्चों और महिलाओं को लाभ प्राप्त हुआ। स्थानीय निवासियों की सुविधा हेतु फाउंडेशन के द्वारा एम्बुलेंस की सुविधा भी उपलब्ध करवाई गयी है और स्वास्थ्य सेवा कैम्प का आयोजन नियमित रूप से किया जाता है।

अदाणी फाउंडेशन के बारे मेंः
1996 में स्थापित, अदाणी फाउंडेशन वर्तमान में 18 राज्यों में सक्रिय है, जिसमें देश भर के 2250 गाँव और कस्बे शामिल हैं। फाउंडेशन के पास प्रोफेशनल लोगों की टीम है, जो नवाचार, जन भागीदारी और सहयोग की भावना के साथ काम करती है। वार्षिक रूप से 3.2 मिलियन से अधिक लोगों के जीवन को प्रभावित करते हुए अदाणी फाउंडेशन चार प्रमुख क्षेत्रों- शिक्षा, सामुदायिक स्वास्थ्य, सतत आजीविका विकास और बुनियादी ढा़ंचे के विकास, पर ध्यान केंद्रित करने के साथ सामाजिक पूंजी बनाने की दिशा में काम करता है। अदाणी फाउंडेशन ग्रामीण और शहरी समुदायों के समावेशी विकास और टिकाऊ प्रगति के लिए कार्य करता है, और इस तरह, राष्ट्र-निर्माण में अपना योगदान देता है।