क्वालिटी के साथ समझौता न करना ही सफलता का मूल मंत्र- अतुल मलिकराम
June 26, 2019 • Abhishek Verma

Pr 24 by 7

क्वालिटी के साथ समझौता  करना ही सफलता का मूल मंत्रअतुल मलिकराम

  • दूसरी बार किया गया क्वालिटी मार्क अवार्ड से सम्मानित 
  • 1200 आवेदनों में चुनी गई 32 कंपनियों में एक रही पीआर 24x7
  • समय पर क्वालिटी कंटेंट से मिले बेहतर परिणाम 

नई दिल्ली June 26, 2019: "कोई भी इंडस्ट्री दो कारणों से फेल होती है। पहली या तो वहां व्यवस्थाएं बेहतर नहीं है या फिर उन्होंने क्वालिटी के साथ समझौता कर लिया है।इसलिए कभी इन दोनों बातों का अनुसरण नहीं करना चाहिए। जब हम क्वालिटी के साथ समझौते की बात को अपनी डिक्शनरी से निकाल देते हैं और समय परकाम को अंजाम देते है, तब हमारा क्लाइंट बेस अपने आप तैयार होने लगता है और नतीजतन हमें अपनी बेहतर क्वालिटी के लिए सम्मानित किया जाता है।"ये कहना है पब्लिक रिलेशन क्षेत्र की अग्रणी कंपनी PR24x7 के फाउंडर अतुल मलिकराम का, जिनके संस्थान को एक बार फिर बेस्ट क्वालिटी सर्विस के लिएसम्मानित किया गया है। अहमदाबाद में क्वालिटी मार्क ट्रस्ट द्वारा आयोजित किए गए क्वालिटी मार्क अवार्ड 2019 में देश की कुछ प्रतिष्ठित कंपनियों कोउनकी बेस्ट क्लाइट सर्विसेस के लिए सम्मानित किया गया। कुल 1200 आवेदनों में 32 कंपनियों को इस अवार्ड के लिए चुना गया, जिनमें पीआर 24x7 कानाम भी शामिल है। 

ख़ास बात यह है कि कंपनी को यह अवार्ड दूसरी बार मिला है। इससे पहले, साल 2015 में भी पीआर 24x7 को इस अवार्ड से नवाजा गया था। इस अवसर पर श्रीमलिकराम ने कहा कि यह सम्मान उनकी कंपनी की विश्वसनीयता व उनके सहयोगियों एवं कर्मचारियों के विश्वास को और बढ़ाएगा। मलिकराम के मुताबिक़जब हम एक सर्विस प्रोवाइडर की भूमिका निभा रहे होते हैं तब हमारे सामने क्वालिटी सर्विस देने के आलावा अन्य कोई विकल्प नहीं होता, और समय पर कामकी डिलीवरी करना हमेशा प्राथमिकता रहती है। पीआर 24x7 इसी अवधारणा के साथ आगे बढ़ रही है और इसके परिणाम साफ़ तौर पर देखे जा सकते हैं। 

कंपनी के बारे में.. 

देश की कुछ प्रतिष्ठित पीआर कंपनियों में से एक पीआर 24x7 ने अपने 19 वर्षों के संघर्ष को कामयाबी में तब्दील करते हुए देश की कुछ गिनी चुनी पीआरकंपनियों में शीर्ष पर बने रहने का गौरव हासिल किया है। साल 1999 में एक कमरे और दो लोगों के साथ शुरू हुआ पीआर 24x7 का सफर, आज देश भर के कईबड़े शहरों तक अपनी पहुंच बना चुका है। कंपनी मुंबई, बंगलुरु, चेन्नई, लखनऊ, गुवाहाटी और श्रीनगर जैसे देश कुल 81 छोटे-बड़े शहरों में अपनी सेवाएंउपलब्ध करा रही है। 1700 से अधिक अख़बारों से आने वाली हर खबर पर सीधी पकड़ रखने के साथ ही, कंपनी अपने क्लाइंट्स के लिए उनके मार्केट सेगमेंट सेजुड़ने व उनके संदेशों को जाहिर करने में मदद करती है। इसके लिए संस्था के पास 114 से अधिक प्रोफेशनल्स की टीम मौजूद हैं, जिनमें स्ट्रेटजी प्लानर्स,मीडिया मैनेजर्स, कॉपी राइटर्स, रिसर्चर्स और पीआर व मार्केटिंग एक्सपर्ट्स शामिल हैं।