जीवन की घटनाओं पर आधारित बैंकिंग सेवाओं के शुभारंभ के साथ उज्जीवन स्मॉल फाइनेंस बैंक ने मनाया विश्व वरिष्ठ नागरिक दिवस
August 27, 2019 • Sunil Malviya

अगस्त 27, 2019: उज्जीवन स्मॉल फाइनेंस बैंक ने अपने सभी ग्राहकों और मुख्य रूप से वरिष्ठ नागरिकों को विशेष लाभ एवं सेवाएं प्रदान करने के लिए जीवन की घटनाओं पर आधारित बैंकिंग सेवाओं का शुभारंभ करते हुए विश्व वरिष्ठ नागरिक दिवस मनाया। बैंक का उद्देश्य वरिष्ठ नागरिकों को संकट की घड़ी में बैंकिंग सहायता के माध्यम से उनकी मदद करना है, ताकि वे अच्छी एवं बुरी, दोनों परिस्थितियों में सुरक्षित महसूस करें।

 

जीवन की घटनाओं पर आधारित बैंकिंग सेवाओं के जरिए वरिष्ठ नागरिकों को कई ख़ास सुविधाएं दी गई हैं, जैसे कि बैंकिंग सेवाओं की घर पर उपलब्धता, जरूरत पड़ने पर विशेष सहायता, तथा शाखाओं में प्राथमिकता सेवाएँ।

 

वरिष्ठ नागरिकों को विभिन्न बैंकिंग सुविधाओं का लाभ उठाने में होने वाली कठिनाइयों को अच्छी तरह समझते हुए, उज्जीवन एसएफबी ने उनके जीवन को और मूल्यवान बनाने के लिए इन सुविधाओं को डिज़ाइन किया है, ताकि इन सुविधाओं को उनके दरवाजे तक बिना किसी परेशानी के उपलब्ध कराया जा सके। इन सुविधाओं को व्यक्ति के जीवन के सुखद पलों के साथ-साथ उसके जीवन में होने वाली अप्रत्याशित घटनाओं एवं दुखद परिस्थितियों का समय रहते सामना करने के लिए तैयार किया गया है। उज्जीवन एसएफबी की शाखाओं में समर्पित कर्मचारी वरिष्ठ नागरिकों का हाथ थामने और लेन-देन को पूरा करने में उनकी मदद करने के लिए हमेशा तैयार रहते हैं।

 

इस मौके पर उज्जीवन स्मॉल फाइनेंस बैंक के एमडी एवं सीईओ, श्री समित घोष ने कहा, “हम अपने ग्राहकों, ख़ासतौर पर वरिष्ठ नागरिकों के लिए जीवन की घटनाओं पर आधारित बैंकिंग सेवाओं की शुरुआत करते हुए बेहद प्रसन्नता का अनुभव कर रहे हैं। हमें यकीन है कि, इन सेवाओं के माध्यम से वे बेहद आसानी और सुविधा के साथ बैंकिंग को जारी रखने में सक्षम होंगे, जिससे बैंकिंग का अनुभव अधिक फायदेमंद बन जाएगा। इन सेवाओं को ग्राहकों के जीवन के हर चरण की उपलब्धियों को ध्यान में रखते हुए डिज़ाइन किया गया है।

 

उज्जीवन  स्मॉल फाइनेंस बैंक लिमिटेड का परिचय

उज्जीवन स्मॉल फाइनेंस बैंक लिमिटेड, उज्जीवन फाइनेंशियल सर्विसेज लिमिटेड की पूर्ण-स्वामित्व वाली अनुषंगी कंपनी है। बैंक ने उज्जीवन फाइनेंशियल सर्विसेज लिमिटेड द्वारा व्यावसायिक उपक्रमों के हस्तांतरण के उपरांत 1 फरवरी, 2017 से एक स्मॉल फाइनेंस बैंक के रूप में अपने परिचालन कार्यों का शुभारंभ किया। रिज़र्व बैंक की ओर से बैंकिंग विनियमन अधिनियम, 1949 की धारा 22(1) के तहत बैंक को भारत में स्मॉल फाइनेंस बैंक के कारोबार हेतु लाइसेंस जारी किया है। उज्जीवन स्मॉल फाइनेंस बैंक लिमिटेड को भारतीय रिज़र्व बैंक अधिनियम, 1934 की दूसरी अनुसूची में भी शामिल किया गया है।