नगरीय निकायों में बनाये गये 10-10 सहेली मतदान केन्द्र
May 6, 2019 • Daily Canon Times
नगरीय निकायों में बनाये गये 10-10 सहेली मतदान केन्द्र

होशंगाबाद संसदीय क्षेत्र में तीन विधानसभा क्षेत्रों नरसिंहपुर, तेंदूखेड़ा और गाडरवारा में नगरीय निकायों में 10-10 मतदान केन्द्रों में मतदान दल की सभी सदस्य महिलाएँ हैं। ऐसे मतदान केन्द्रों को स्थानीय प्रशासन द्वारा सहेली मतदान केन्द्र नाम दिया गया है। इन केन्द्रों पर मतदान कराने का पूरा काम महिला मतदान कार्मिक बखूबी कर रही हैं। महिलाओं को चुनाव कराते देखकर महिला मतदाता और अन्य मतदाता मतदान के लिए प्रेरित हो रहे हैं। ऐसा ही एक मतदान केन्द्र क्रमांक १९४ एसडीएम कन्या शाला स्टेशनगंज नरसिंहपुर में बनाया गया है। केन्द्र की पीठासीन अधिकारी माया पटेल, मतदान अधिकारी क्रमांक एक/ पी- 1 ऊषा सोनी, / पी-2 हरिबाई ठाकुर और / पी- 3 अजरा परवीन हैं।

बेटे के सहारे मतदान करने पहुँचे दिव्यांग कम्मा नौरिया

विधानसभा क्षेत्र तेन्दूखेड़ा के ग्राम हीरापुर की शासकीय प्राथमिक शाला में बने मतदान केन्द्र में 80 वर्षीय अस्थि-बाधित दिव्यांग कम्मा नौरिया ने अपने मताधिकार का उपयोग किया। उनका बेटा भूरा नौरिया उन्हें अपनी पीठ पर बैठाकर मतदान केन्द्र लाया था। बूथदूत ने भी उनकी मदद की। दिव्यांग मतदाताओं की सुविधा के लिये मतदान केन्द्र पर उपलब्ध व्हील-चेयर/ट्रायसिकल की मदद लेने से उन्होंने मना कर दिया । बेटे भूरा नौरिया का कहना है कि माता-पिता की सेवा से बढ़कर कुछ भी नहीं है। इसके साथ ही मतदान भी देश की ही सेवा है।

400 कि.मी. दूर से मतदान करने अपने गाँव पहुँचे युवा मतदाता संतोष पटेल

इंदौर के एक निजी इंजीनियरिंग कॉलेज के प्राध्यापक युवा संतोष पटेल ने 400 किलोमीटर लिये पहुँचे। उन्होंने जिले के विधानसभा क्षेत्र तेन्दूखेड़ा के गाँव इमलिया-कढ़ैली के मतदान केन्द्र में वोट डाला। मतदान केन्द्र पर निरीक्षण के लिये पहुँचे सीईओ जिला पंचायत श्री आर.पी. अहिरवार और अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री राजेश तिवारी ने उनका स्वागत किया।

तलापार आदर्श मतदान केन्द्र बना आकर्षण का केन्द्र

नरसिंहपुर में शासकीय प्राथमिक शाला, तलापार में मतदान केन्द्र क्रमांक-173 आदर्श मतदान केन्द्र को शादी वाले घर की तरह सजाया गया। गुब्बारों और फूल-पत्तियों से केन्द्र को आकर्षक बनाया गया। प्रवेश द्वार को स्वागत द्वार की तरह सजाया गया है। यहाँ छाया और पीने के पानी की व्यवस्था और बच्चों के लिये झूलाघर भी है। मतदाताओं के बैठने के समुचित प्रबंध किये गये हैं। महिला एवं पुरुष शौचालय की व्यवस्था भी की गई। दिव्यांग मतदाताओं के लिये रैम्प/व्हील-चेयर की व्यवस्था है। बुजुर्ग, दिव्यांग, गर्भवती एवं धात्री महिला मतदाताओं को वोट डालने के लिये लाइन में नहीं लगना पड़ा।

मतदान करने एक साथ पहुँची तीन पीढ़ी

विधानसभा क्षेत्र नरसिंहपुर के करेली के मतदान केन्द्र पर सबसे पहले एक परिवार की तीन पीढ़ी एक साथ मतदान करने पहुँची। ये थे 83 वर्षीय चौधरी राजेन्द्र सिंह, पुत्र 51 वर्षीय प्रवीण कौरव और नातिन 21 वर्षीय तेजस्विनी। चौधरी राजेन्द्र सिंह ने मतदाताओं से कहा कि लोकतांत्रिक व्यवस्था को मजबूत बनाने के लिये हर पीढ़ी के मतदाता को अपने मताधिकार का निडर होकर उपयोग करना चाहिये।