स्मार्ट गौ-शालाएँ बनाने पशुपालन विभाग और एसआईबीसीएस कम्पनी के बीच एमओयू
July 29, 2019 • हरि प्रसाद पाल 


भोपाल।  पशुपालन मंत्री लाखन सिंह यादव और जनसम्पर्क मंत्री पी.सी. शर्मा की मौजूदगी में आज मंत्रालय में पशुपालन विभाग और एसआईबीसीएस ग्रीन पावर प्रायवेट लिमिटेड के बीच स्मार्ट गौ-शालाएँ बनाने के लिये एमओयू पर हस्ताक्षर हुए। अपर मुख्य सचिव पशुपालन मनोज श्रीवास्तव और एसआईबीसीएस कम्पनी के डायरेक्टर कासि ललित तथा पशुपालन विभाग, गौ-संवर्धन बोर्ड और एसआईबीसीएस कम्पनी के अधिकारी मौजूद थे।

एमओयू के अंतर्गत पशुपालन विभाग द्वारा कॉर्पोरेट के सहयोग से स्मार्ट गौ-शालाओं की स्थापना की कार्य-योजना का क्रियान्वयन किया जायेगा। पहले चरण में एसआईबीसीएस कम्पनी कम से कम 2 से 3 हजार गौ-वंश की क्षमता वाली 60 गौ-शालाओं की स्थापना करेगी। स्मार्ट गौ-शाला प्रोजेक्ट में गोबर और गौ-मूत्र से जैविक सीएनजी, सौर ऊर्जा, जैविक कीट-नाशक सहित औषधियों एवं अन्य उत्पादों के माध्यम से गौ-शालाओं का व्यावसायिक मॉडल भी बनाया जायेगा। राज्य की गौ-शालाओं को जमीन देने की नीति के तहत स्मार्ट गौ-शालाओं को जमीन उपलब्ध करवाई जायेगी। गौ-शालाओं में निराश्रित गौ-वंश को रखा जायेगा।