इस मदर्स डे पर एण्ड टीवी पर मिलिए अपनी पसंदीदा माँ-बच्चे की जोड़ी से!
May 8, 2020 • Canon Times Bureau

भगवान हर जगह नहीं हो सकते, इसलिये उन्होंने माँ बनाई। वह हमेशा हमारी देखभाल करती है, हमारी जरूरतों, मांगों, नखरों को पूरा करती है और हमारे जीवन को बेहतर बनाती है। इस सम्बंध को खूबसूरती से दिखाने वाली आपकी पसंदीदा एण्ड टीवी की जोड़ियाँ बता रही हैं कि उनकी केमिस्ट्री लाइट्स, कैमरा और एक्शन से भी परे है!
 
*‘कहत हनुमान जय श्री राम‘ की माता अंजनी*, यानि स्नेहा वाघ को बाल हनुमान से भावनात्मक लगाव है। पर्दे पर अपने किरदार के बारे में उन्होंने कहा, ‘‘अंजनी माता का किरदार सुंदरता, साहस और भक्ति का आदर्श मिश्रण है। अंजनी भगवान हनुमान जैसे महान भक्त की माता का एक शक्तिशाली किरदार है। भगवान हनुमान के जीवन पर उनकी सबसे अधिक छाप है और वे उन्हें भक्ति के लिये प्रेरित करती हैं। यह शो बताता है कि माँ हमारी पहली गुरू होती है और वह कैसे अपने बच्चे के जीवन को आकार देती है।’’

स्नेहा ने आगे कहा, ‘‘माँ का किरदार निभाते हुए आप असली भावनाओं से भर जाते हैं। मैं यह पता लगाती रहती हूं कि वह ठीक है या नहीं क्योंकि लाॅकडाउन बच्चों के लिए काफी मुश्किल है। शूटिंग के दौरान भी मैं उसकी बहुत फिक्र करती हूँ और उसके लिए प्रोटेक्टिव रहती हूँ और हमेशा उसका ध्यान रखती हूँ। एकाग्रह और मेरे बीच का रिश्ता असाधारण है। वह इतना छोटा है फिर भी मेरा ख्याल रखता है और पूछता है कि क्या मैं ठीक हूं।’’

*हप्पू की उलटन पलटन की कटोरी अम्मा*, यानि हिमानी शिवपुरी और योगेश त्रिपाठी, यानि दरोगा हप्पू सिंह की मजेदार बातचीत हमेशा आनंद देती है। 

*योगेश के साथ पर्दे पर अपनी केमिस्ट्री के बारे में हिमानी ने कहा*, ‘‘कटोरी अम्मा एक जिद्दी और बुजुर्ग महिला है, जो किसी की बात नहीं मानती है, लेकिन उसका अपना आकर्षण है। एक आम माँ की तरह वह उसकी देखभाल और फिक्र करती है और उसके लिये हमेशा अच्छा चाहती है।’’

हालांकि, इन दोनों की भारी केमिस्ट्री थियेटर के दिनों से ही चल रही है। इसके बारे में हिमानी शिवपुरी ने कहा, ‘‘योगेश और मैंने एक साथ कई नाटक किये हैं। वह एक बेहतरीन अभिनेता हैं और उनकी माँ की भूमिका करना मुझे अच्छा लगता है। कई बार मैं अपने किरदार में डूब जाती हूँ और उन्हें डांट देती हूँ, लेकिन वह एक आज्ञाकारी बेटे की तरह मेरी डांट को भी स्वीकार कर लेते हैं।’’

*एण्ड टीवी के ‘एक महानायक- डाॅ. बी.आर. आम्बेडकर‘* में भीमा बाई की भूमिका निभा रहीं नेहा जोशी करती हैं, ‘‘भीमा बाई एक विनम्र महिला थीं, जिन्होंने अपने पति को सहयोग दिया और बच्चों को अच्छा करने के लिये प्रोत्साहित किया। वह उन्हें बेहतर जीवन देना चाहती थीं और उनके कल्याण के लिये उन्होंने कठोर परिश्रम किया।’’
नेहा जोशी पर्दे पर आयुध भानुशाली की माँ बनी हैं और पर्दे के बाहर भी उसके साथ एक खूबसूरत रिश्ता है। आयुध अक्सर नेहा के साथ मजाक करता है, लेकिन उनके साथ उसे मजा भी आता है। पर्दे के बाहर के अपने रिश्ते के बारे में उन्होंने कहा, ‘‘आयुध पर्दे के बाहर भी मेरे बहुत करीब है। हम शाॅट्स के बीच खूब सारा समय साथ में बिताते हैं- खेलते हैं, रिहर्सल करते हैं, खाना खाते हैं और चुटकुले सुनाते हैं। उसके साथ कोई पल बोझिल नहीं लगता है। वह अक्सर मार्गदर्शन और सहयोग के लिये मेरे पास आता है, जिससे हमारा रिश्ता खास हो जाता है। मैं उसकी बहुत फिक्र करती हूँ।’’
 
*एण्ड टीवी के ‘गुड़िया हमारी सभी पे भारी‘ की समता सागर ऊर्फ सरला और गुड़िया ऊर्फ सारिका बहरोलिया* का शो में  खट्टा-मीठा रिश्ता दिखाया गया है। गुड़िया के साथ पर्दे पर उसके किरदार के साथ संबंध के बारे में समता सागर ने कहा, ‘‘हर आम माँ की तरह सरला भी अपनी बेटी गुड़िया को लेकर चिंतित है।वह चाहती है कि उसकी शादी हो जाए और उसे एक अच्छ पति मिले। 
लेकिन उसकी बेटी गुड़िया अपनी मौजूदा सच्चाई या सामाजिक नियमों को नहीं मानती है, जिसके कारण वह असामान्य परिस्थितियों में फंस जाती है। इससे सरला को खूब चिंता होती है कि अब क्या होगा हमारी गुड़िया का?’’ 

पर्दे के बाहर भी उनका रिश्ता असाधारण है। इसके बारे में समता ने कहा, ‘‘माँ का किरदार बहुत शक्तिशाली होता है और अपने-आप तरह-तरह की भावनाओं को जन्म देता है। सारिका एक बहुत अच्छी और विनम्र लड़की है और पर्दे पर उसकी माँ का किरदार निभाकर मैं खुश हूँ। मैं उसे हमेशा एक्टिंग के टिप्स भी देती हूं क्योंकि मैं चाहती हूं कि वह इस कला में माहिर हो जाए। मैं उसे अपनी बेटी की तरह प्यार करती हूं और हमेशा उसकी सेहत एवं सुरक्षा का ध्यान रखती हूं, खासतौर से इस समय में क्योंकि सारिका लाॅकडाउन के कारण अपने माता-पिता से दूर है। हम वीडियो काॅल्स और चैट्स के जरिये उससे लगातार जुड़े रहते हैं।’’

*देखते रहिये अपनी पसंदीदा माँ-बच्चे की जोड़ियाँ और उनकी कहानियाँ केवल एण्ड टीवी पर!*