महाराष्ट्र में शिवसेना ने धोखाबाजी की और कांग्रेस ने जनमत को ठग लिया :अमित शाह
December 4, 2019 • Canon Times Bureau

महाराष्ट्र की महाभारत के बाद बीजेपी अध्यक्ष और गृहमंत्री अमित शाह ने पहली बार खुलकर कहा है किअजित पवार के साथ जाकर बीजेपी ने कोई गलती नहीं की बल्कि शिवसेना ने पूरे महाराष्ट्र की जनता को धोखा दिया है।

 

न्यूज़18 इंडिया के अमिश देवगन के साथ एजेंडा झारखंड कार्यक्रम में दिए गए इंटरव्यू में अमित शाह ने तमाम विवादस्पद मुद्दों पर खुलकर जवाब दिए। राम मंदिर पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला, अर्थव्यवस्था में कमजोरी, गांधी परिवार से एसपीजी सुरक्षा हटाने जैसे सभी मामलों पर शाह ने अमिश देवगन जवाब के बेबाक सवालों के दो टूक जवाब दिए।

 

गृहमंत्री के मुताबिक मोदी जी की अगुआई में मौजूदा सरकार सभी चुनौतियों से निपटने में सक्षम है और आगे कई बड़े फैसले लिए जाएंगे।

 

महाराष्ट्र में लगे झटके पर अमित शाह ने कहा कि वहां जो हुए वो साफ साफ शिवसेना की धोखेबाजी है। महाराष्ट्र में बीजेपी-शिवसेना गठबंधन ने मिलकर चुनाव लड़ा और जितनी सीटों पर बीजेपी लड़ी उनमें 70 परसेंट सीटों पर जीत हासिल की। जबकि शिवसेना को सिर्फ 44 परसेंट सीटें ही मिली। महाराष्ट्र में बीजेपी-शिवसेना को मोदी जी के नाम पर वोट मिले। अजित पवार मामले में भी हमने विचारधारा पर समझौता नहीं किया बल्कि उद्धव ठाकरे ने विचारधारा से समझौता करके समझौता किया।

 

शाह ने इस आरोप को गलत बताया कि बीजेपी गठबंधन धर्म नहीं निभा पाती। उनके मुताबिक पूर्ण बहुमत होने के बावजूद बीजेपी ने त्रिपुरा,असम में गठबंधन सरकारें बनाईं। उन्होंने कहा कि झारखंड में बीजेपी को पूर्ण बहुमत मिलेगा लेकिन वो आसजू के साथ मिलकर ही सरकार बनाएगी।

 

क्या राममंदिर पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले को बीजेपी भुना रही है? यह पूछे जाने पर शाह ने कहा किराममंदिर मुद्दे को भुनाने का सवाल ही नहीं उठता। उन्होंने कहा कि  देश की इच्छा थी कि अयोध्या में राममंदिर बने लेकिन कांग्रेस नहीं चाहती थी कि अयोध्या में राम मंदिर बने और अगर उन्होंने अड़ंगा ना लगाया होता तो राम मंदिर बन चुका होता। अमित शाह ने दो टूक कहा हम डंके की चोट पर कहते हैं अयोध्या में भव्य राम मंदिर बनाएंगे। गृहमंत्री ने भरोसा दिया कि कोर्ट के फैसले के मुताबिक ही राम मंदिर ट्रस्ट बनेगा।

 

गृहमंत्री अमित शाह ने जोर दिया कि बीजेपी एनआरसी के मुद्दे पर पीछे हटने वाली नहीं है और पश्चिम बंगाल समेत पूरे देश में एनआरसी कराई जाएगी। लेकिन उन्होंने कहा कि लोगों को इससे घबराने की जरूरत नहीं है क्योंकिइसमें धर्म के आधार पर कोई भेदभाव नहीं होगा।

 

उन्होंने स्पष्ट किया कि साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के गोडसे वाले बयान से बीजेपी पूरी तरह असहमत है और उनके खिलाफ कार्रवाई होगी।

 

गांधी परिवार से एसपीजी सुरक्षा हटाने पर शाह ने कहा कि ये सिर्फ एक परिवार का दर्द है।                                                SPG सुरक्षा सिर्फ प्रधानमंत्री को मिलनी चाहिए। गांधी परिवार के तीनों सदस्यों को सर्वोच्च सुरक्षा दी गई है      

                                                                                                                               इलेक्ट्रोरल बॉन्ड पर उठे विवाद पर अमित शाह ने कहा कि                                                                               इलेक्ट्रोरल बॉन्ड चुनाव में काला धन खत्म करन की व्यवस्था है। कांग्रेस ने हमेश से चुनाव में कालाधन बढ़ाने का काम किया है। इंदिरा से लेकर राजीव गांधी तक सबने कालेधन को बढ़ाने का उपाय किया है। उन्होंने दावा किया कि बीजेपी ने एक पैसा ब्लैकमनी नहीं लिया है, सारा इलेक्ट्रोरल बॉन्ड से लिया है और बीजेपी चंदे के एक एक पैसे का हिसाब देने को  तैयार है। 

 

अमित शाह ने भरोसा जताया कि जल्द ही अर्थव्यवस्था की मुश्किलों पर काबू कर लिया जाएगा क्योंकि मौजूदा संकट ग्लोबल इकोनॉमी की वजह से आया है घऱेलू वजह से नही.