राम मंदिर शिलान्यास पर राम भजन की ‘आवाज़’ सुनिए हमारा नया शो
August 7, 2020 • Canon Times Bureau

भाषाओं के बीच सबसे बड़ा मौखिक कार्यक्रम का मंच।

2020, अयोध्या में राम मंदिर के शिलान्यास के पवित्र पर्व पर राम भक्तों के लिए राम की नगरी अयोध्या पर आधारित हमारा नया शो। इस शो के माध्यम से श्रोता राम मंदिर पर बने इस अद्भुत प्रस्तुति को अब घर बैठे.बैठे सुन सकते हैं।

 अयोध्या नगरी और राम मंदिर से पूरे देश की आस्था जुड़ी हुई है। यहाँ की भाषा में कहें तो ‘कण - कण’ में राम समाए हुए हैं और ऐसी पावन नगरी पर जन्मे श्री राम उनसे जुड़ी आस्था और मंदिर के शिलान्यास के उपलक्ष में aawaz.com ने इस शो को लोगों तक पहुंचाने कि कोशिश की है। अगर देखा जाए तो जितना अयोध्या नगरी आस्था में सराबोर है उतनी ही विविधता उसकी कला में भी है।

 उत्तर प्रदेश की इस प्राचीन और धार्मिक नगरी अयोध्या को राम की जन्मभूमि माना जाता है जहां मौजूद राम मंदिर के शिलान्यास को अयोध्या में हर्षोल्लास और किसी पावन पर्व की तरह देखा जा रहा है।

 राम जन्मभूमि मंदिर के पंडित महंत नृत्य गोपाल दास ने इस नगरी से जुड़ी कई अनसुनी बातों को हमारे शो में साझा किया है। वहीं भरत -हनुमान मिलन मंदिर के महंत रामदास जी, श्री राम के वन वास के दौरान भरत की तपस्या की कहानी को हमारे श्रोताओं के लिए इस मंच पर लेकर आए हैं। श्री राम के वैकुंठधाम जाने की कहानी को भी गुप्तार घाट के पुजारी जगदीशदास जी ने इस शो में बताया हैए महंत देवेंद्र प्रसाद आचार्य जी ने अयोध्या और राम कथा का वर्णन किया है तथा श्री शंकरलाल शर्मा ने हमें कनक भवन के बारे में अपने विचार साझा किए है।

 भजन, कीर्तन से लेकर रागों और सुरों की गूंजए अयोध्या को एक अलग रंग में रंग देती है। हर कोई इस नगरी में आते ही प्रभु श्री राम के चरणों में कुछ न कुछ प्रस्तुत करने की इच्छा लेकर आता है। ऐसी ही एक प्रस्तुति के साथ aawaz.com आया है, राम की जन्मभूमि पर अपनी मनमोहक ‘राम भजन’ की प्रस्तुति को लेकर। राम-भजन को प्रभु श्री राम की भक्ति से ओत-प्रोत होकर सुरों में ढाला गया हैए जो श्रोताओं के दिलों को छू जाने की काबिलियत रखता है।

राम भजन’ को शब्द दिए है, श्री थीयागराजन सीतारमन नेए मधुर स्वर में गायन किया है अमृता शेखर एवं अपूर्व शेखर ने संगीत की मिक्सिंग एवं एडिटिंग पर सराहनीय काम किया है श्री बरत लक्मन्न ने और इसका वीडियो एडिट का श्रेय जाता है, श्री लक्ष्मी को।

 

aawaz पर उपलब्ध यह धार्मिक शो अपनी तरह का पहला ऐसा शो होगा जहाँ भक्त आस्था के विषय पर बात बल्कि इसमें दार्शनिक एवं विचारों की व्याख्या को भी सुन सकेंगे। इसके माध्यम से आचार्य और पंडितों के पहलूओं और उनकी सोच को श्रोताओं तक पहुँचाया जाएगा। यही इस शो की खास बात भी है।

 इस शो के बारे में बात करते हुए aawaz.com के सह- संस्थापक श्रीरमन थ्यागराजन कहते हैं अयोध्या जैसी खूबसूरत जगह के दर्शन करना आसान नहीं है लेकिन स्मार्टफोन्स और इंटरनेट की मदद से आज यह भी हमारे लिए सुविधाजनक बन गया है। हम Awaaz के माध्यम से भारत में मौजूद इस देवस्थल से जुड़ी कई कहानियों को आप तक लेकर आ रहे हैं। हमारे इस शो में राम मंदिर की जानकारियाँ और कथाओं को अब भक्त सुन सकेंगे।‘

 aawaz.com वेबसाइट और ऐप फिलहाल हिन्दी और अंग्रेज़ी में उपलब्ध है जिसका उद्देश्य भारतीयों को उम्दा स्तर के कार्यक्रम उपलब्ध कराना है। श्रोता इसका आनंद मुफ्त में ले सकते हैं। aawaz.com पर श्रोता लगभग 750 घंटे से ज्यादा के अलग-अलग शो सुन सकेंगे जिनकी भाषा औऱ बोली को पॉडकास्ट की तर्ज़ पर तैयार किया गया है। इतना ही नहीं यहां लगभग एक हज़ार से भी ज़्यादा लेख उपलब्ध है। ऑडियो और लेख दोनो में ही कॉमेडी मनोरंजन जीवन-शैली स्वास्थ्य कहानियां धार्मिक एवं पौराणिक कथाएंए बॉलीवुड कलाकारों से वार्तालाप और करियर जैसे कई श्रेणियों में कंटेंट उपलब्ध है। इस मंच पर मौजूद हिन्दी में उपलब्ध ऑडियो और लेख दोनों को ही पूरी तरह मुंबई स्थित सॉफ्टवेयर और कंटेंट कम्पनी अग्राह्य: टेक्नोलॉजीस द्वारा बनाया गया है। ऍप और वेबसाइट दोनों ही उपभोक्ताओं के लिए फ्री है जिसे उपभोक्ता बिना किसी रुकावट एवं विज्ञापन के सुन सकते है ।