युजवेंद्र चहल का दावा- कोरोना ने खत्म किया महेंद्र सिंह धोनी का करियर
August 19, 2020 • Canon Times Bureau

15 अगस्त की शाम टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट को अचानक अलविदा कहने के फ़ैसले ने फैंस ही नहीं टीम इंडिया के खिलाड़ियों को भी चौंका दिया था. लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल ने भी धोनी के अचानक संन्यास लेने को बेहद ही चौंकाने वाला बताया है. साथ ही चहल ने न्यूज़18 इंडिया के खास कार्यक्रम चौपाल में धोनी के संन्यास पर बड़ा दावा भी किया है. चहल का दावा है कि कोरोना ने धोनी का करियर खत्म कर दिया, नहीं तो वो टी20 वर्ल्ड कप जरूर खेलते.

कोरोना की वजह से लिया धोनी ने संन्यास

न्यूज़18 इंडिया के चौपाल कार्यक्रम में युजवेंद्र चहल ने कहा, 'धोनी का संन्यास बेहद ही चौंकाने वाली खबर थी. मुझे लगता है इसमें कोरोना का भी हाथ है नहीं तो धोनी टी20 वर्ल्ड कप खेलते.' युजवेंद्र चहल ने साथ ही ये भी कहा कि धोनी के अंदर अब भी इंटरनेशनल क्रिकेट खेलने का दम है. चहल बोले, 'मैं चाहूंगा कि धोनी खेले. उनकी वजह से मुझे और कुलदीप यादव को सफलता मिली है. विकेट के पीछे से हमें धोनी से मदद मिलती थी. धोनी थे तो मेरा 50 फीसदी काम हो जाता था. धोनी को पता था कि पिच कैसी खेल रही है. हमें पहली बॉल से पहले पता होता था कि पिच कैसी है. वरना जब धोनी नहीं होते तो हमें पिच समझने में एक दो ओवर लग जाते थे. मैच में विराट और रोहित बाउंड्री पर होते थे तो सबसे पास सीनियर धोनी ही होते थे. धोनी ने साउथ अफ्रीका दौरे पर भी मेरी और कुलदीप की काफी मदद की.'

धोनी को मिलना चाहिए विदाई मैच?

युजवेंद्र चहल से जब पूछा गया कि क्या धोनी को विदाई मैच मिलना चाहिए? इस सवाल के जवाब पर युजवेंद्र ने कहा कि ये फैसला बीसीसीआई करेगी. साथ ही धोनी क्या चाहते हैं ये भी सोचने वाली बात है. युजवेंद्र चहल ने बताया कि वो धोनी के साथ मर्यादा में रहकर मस्ती करते थे. टीम में सीनियर-जूनियर जैसी कोई बात ही नहीं है. युजवेंद्र ने कहा कि लॉकडाउन के दौरान उन्होंने माही के साथ पबजी गेम भी खेला और बातचीत भी हुई है. चहल ने साथ ही मजाक में कहा कि माही को पकड़ना मुश्किल है, डॉन तो फिर भी पकड़ा जाएगा.'